Street Food In Kolkata
Street Food In Kolkata

भारत की सांस्कृतिक राजधानी में ट्राम, दुर्गा पूजा और ऐतिहासिक इमारतों के अलावा भी काफी कुछ है। जुबान को नया स्वाद देने के लिए शहर में आने वाले खाने के शौकीन लोगों और पर्यटकों को कोलकाता कभी निराश नहीं करता। पुचका से लेकर झाल मूरी, काठी रोल से डेविल एग, जलेबी से लेकर कुल्फी तक आपको ये सब सड़क किनारे मिल जाएगा। खाने की ये सभी चीजें काफी स्वादिष्ट और कम कीमत में मिलती हैं। हम आपको कोलकाता के ऐसे स्ट्रीट फूड और ये कहां मिलेंगे इसकी जानकारी दे रहे हैं

लूची आलू दोम
लूची पूरी की तरह ही होती है जबकि आलू दोम, दम आलू का बंगाली संस्करण है। स्थानीय लोगों और पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय यह व्यंजन अपने अंदर बंगाल की खूशबू समेटे हुए है। प्रमाणित लूची का स्वाद चखने के लिए सेंट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट ‘फेयरलाई पैलेस’ जाएं। यहां शहर की सबसे अच्छी लूची मिलती है। इसके अलावा स्वादिष्ट लूची के लिए आप गोलपार्क कोशे कोशा भी जा सकते हैं। वहीं बालीगंज में लूची के कई अनौपचारिक ठिकाने भी हैं जहां लजीज लूची मिलती है।

दूध कोला
भारत की सांस्कृतिक राजधानी अपनी विविधता से आपको हैरान कर देगी। सामान्य कोला और दोई के अलावा यहां एक और पेय है जो पर्यटकों के बीच काफी लोकप्रिय है वो है दूध कोला। यह कुछ खास नहीं बल्कि दूध में कोला को मिलाकर बनाया जाता है। इस तरह का दूध कोला आपको एसपी मुखर्जी रोड पर बलवंत सिंह की दुकान पर मिल सकता है। इसके अनोखे स्वाद के लिए इसे जरुर आजमाएं।

असली फल की कुल्फी
हालांकि कुल्फी आपको हर जगह मिल जाएगी जिसे बच्चे और बड़े दोनो समान रुप से पसंद करते हैं लेकिन कोलकाता की कुल्फियों में कुछ अलग बात है। ये डिब्बाबंद नहीं बल्कि असली फलों से बनाई जाती है। केमेक स्ट्रीट पर वर्धान मार्केट के सामने ऑरेंज कुल्फी का स्वाद जरूर चखें। ये कुल्फी को असली संतरे के अंदर जमाते हैं। इसे चार हिस्सों में काटकर ग्राहकों को खाने के लिए दिया जाता है जिससे कुल्फी में फल का असली स्वाद आ जाता है।

घोटी गोरोम या बादाम माखा
कोलकाता की संकरी गलियों में घूमते समय घोटी गोरोम या बादाम माखा एक आदर्श चीज है स्थानीय लोगों के साथ यह पर्यटकों के बीच भी लोकप्रिय है। पेट के लिए बेहतर और अत्यंत लुभावनी यह ठेठ कोलकाता शैली में बनी मूंगफली चाट या बादाम माखा मूलरुप से चनाचूर से बनाई जाती है। इसमें कटी हुई प्याज, हरी मिर्च, मटर, मूंगफली और मसाला होता है। बच्चों को यह हल्का खाना अच्छा लगता है और बड़े इसके स्वाद के दीवाने हैं। यह उत्कृष्ट स्ट्रीट फूड कोलकाता की तकरीबन हर गली किनारे मिलता है। जब कोलकाता जाएं तो इसका स्वाद चखना न भूलें।

आलू काबली
आलू काबली यहां का प्रसिद्ध सड़क किनारे मिलने वाला स्ट्रीट फूड है जिसे कॉलेज और ऑफिस जाने वाले बड़े चाव खाते हैं। इसके अलावा पर्यटकों को भी यह काफी पसंद है। जब कोलकाता जाएंगे तो आपको खोमचे वाले आलू का बना यह व्यंजन बेचते नजर आएंगे। इसे तैयार करने के लिए उबले हुए आलू के टुकड़ों पर भुनी हुई मटर, कटी हुई प्याज, टमाटर, धनिया, इमली की चटनी, कटी हुई हरी मिर्च डाली जाती है। यह गर्म और मसालेदार स्नैक्स यहां काफी पसंद किया जाता है।

फिश कटलेट और एग डेविल
मटन, चिकन या मछली के कीमे से बने कटलेट की दुकाने कोलकाता के अधिकतर गली किनारे आपको मिल जाएंगी। एग डेविल इस शहर का खास व्यंजन है। डीमर डेविल, डेवल एग का स्थानीय संस्करण है। जिसमें अंडे की जर्दी की जगह चिकन, मटन, मछली या आलू का कीमा डाला जाता है। इसे कसोंदी के साथ परोसा जाता है जो बंगाल की खास सरसों की चटनी है। इसे सरसों को किण्वित करके और कभी-कभी ज्यादा स्वाद देने के लिए इसमें कच्चे आम का जूस भी मिलाया जाता है। इसे चखने की सबसे अच्छी जगह है डेकर्स लेन, सूर्या सेन स्ट्रीट पर कालिका, कॉलेज स्क्वेयर, कालीघाट पर अपंजन और सोवा बाजार क्रॉसिंग पर मित्रा कैफे।

राधा बल्लवी और मसाला कचौरी
लोकप्रिय स्ट्रीट फूड जिसमे मसूर भरी हुई पूरी को डीप फ्राई किया जाता है इसे राधा बल्लवी कहते हैं। इसे आमतौर पर घुघनी, छोला दाल, आलू दम या आलू तरकारी के साथ खाया जाता है। कचौड़ी या राधाबोलोबी (जैसा वहां बोला जाता है) के गंगूराम के आउटलेट पूरे कोलकाता में स्थित है। आपको यह पकवान बिजोली ग्रिल, राजा बस्ताना रॉय रोड, साल्ट लेक सिटी में आभूज़ हॉट एंड फ्रेश पर मिल जाएगा। उत्तरी कोलकाता से टॉलीगंज आते हुए अगर आप राधा बल्लवी का स्वाद चखना चाहते हैं तो यह आपको चेतला और न्यू एलीपोर आटलेट पर गुप्ता ब्रदर्स के यहां मिल जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here