Edakkal Caves Open For Tourist Now

केरल के वायनाड डिस्ट्रिक्ट स्थित कलपेट्टा से करीब 25 किलोमीटर दूर सुनसान जगह पर स्थित है इडक्कल की 2 नैचरल गुफाएं। ये गुफाएं समुद्र तल से 1 हजार 200 मीटर की ऊंचाई पर स्थित हैं। ऐसा माना जाता है कि इन गुफाओं में तस्वीरों के जरिए जो कुछ लिखा गया है वह 6 हजार ईसा पूर्व काल का है। साथ ही इडक्कल की गुफाओं में पत्थरों पर की गई खुदाई और नक्काशी भी बेहद असामान्य और दुर्लभ है जो दक्षिण भारत की सदियों पुरानी संस्कृति के बारे में बताती है।

केरल के अम्बुकुथी की पहाड़ियों पर स्थित इडक्कल की गुफाओं को भारी बारिश और पत्थरों के गिर जाने की वजह से पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया था। हालांकि पहली गुफा में पर्यटकों के जाने पर बैन लगा हुआ था लेकिन सेकंडरी रास्ते के जरिए पर्यटक दूसरी गुफा तक पहुंच रहे थे लेकिन सभी पर्यटकों को नहीं बल्कि सीमित संख्या में पर्यटकों को इस गुफा में जाने की इजाजत दी जा रही है। बताया जा रहा कि केरल में हुई भारी बारिश और बाढ़ के बाद जो तबाही मची थी उससे पर्यटन पर भी काफी असर हुआ था। लेकिन अब केरल में जिंदगी धीरे-धीरे पटरी पर आ रही है और पर्यटकों के लिए इडक्कल की गुफा को भी खोल दिया गया है।

ऐसी सूचना मिल रही है शुरुआत में सिर्फ 1 हजार 920 पर्यटकों को 30-30 के ग्रुप में इडक्कल की दूसरी गुफा में घूमने जाने की इजाजत होगी। बावजूद इसके पहली गुफा में पर्यटकों के जाने पर एंट्री अब भी बंद है। हालांकि गुफा के अंदर पत्थरों के गिरने की वजह से पर्यावरणविद चिंतित हैं और उन्हें डर है कि इस तरह की घटनाओं से गुफा को काफी नुकसान पहुंच सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here