kashmir
kashmir

Kashmir में हुई ताजा बर्फबारी के कारण बुधवार को श्रीनगर का इस सीजन का सबसे ठंडा दिन कहा गया। वहीं, बर्फवबारी के बावजूद कश्मीर के ज्यादातर हिस्सों में न्यूनतम पारा कुछ ऊपर चढ़ा है। यानी ठंड से राहत मिली है। अगर आप धरती के स्वर्ग कश्मीर की खूबसूरती का मजा लेना चाहते हैं साथ ही ऊंचाई से झड़ती ताजा-ताजा बर्फ को देखना और अनुभव करना चाहते हैं तो यही सही समय है, जब आपको कश्मीर के लिए अपना बैग पैक कर लेना चाहिए।

इस समय बढ़ जाएगा मजा
मौसम विभाग के सूत्रों की मानें तो 23 जनवरी के आस-पास कश्मीर में और अधिक वर्फबारी हो सकती है। साथ ही बारिश का मजा भी आप उठा सकेंगे। कभी धूप खिलेगी, कभी बर्फ बरसेगा तो कभी बारिश की रिमझिम होगी। मौसम के बदलते अंदाज कश्मीर में आपकी सैर को शानदार बना देंगे। हां, गर्म कपड़े ले जाना बिल्कुल न भूलें।

लद्दाख
लद्दाख में दूर-दूर तक बर्फ ही नजर आती है और ऐसा लगता है कि यहां की धरती बर्फ से ही बनी है। शायद इसीलिए लद्दाख को चांद की धरती भी कहा जाता है। यहां लामा साधुओं का बसेरा है और पेड़ नाम मात्र के लिए हैं। खास बात यह है कि यहां कि नदियां दिन में कुछ ही समय के लिए प्रवाहित हो पाती हैं, नहीं तो इनमें ज्यादातर समय बर्फ ही जमा रहता है। लद्दाख जिले का प्रमुख शहर लेह है। यहां बौद्ध धर्म का सबसे बड़ा धार्मिक संस्थान हेमिस गोंपा स्थित है।

गुलमर्ग
गुलमर्ग जम्मू और कश्मीर का खूबसूरत और विख्यात हिल स्टेशन है, जो पर्यटकों का पसंदीदा स्पॉट है। कश्मीर के बारामूला जिले में स्थित गुलमर्ग सर्दी के मौसम में और भी खूबसूरत हो जाता है। यह सिर्फ हिलस्टेशन नहीं है। गुलमर्ग में दुनिया का सबसे ऊंचा गोल्फ कोर्स है और दुनियाभर में फेमस स्की रेजॉर्ट भी यहीं स्थित है। स्कीइंग के मामले में गुलमर्ग को दुनिया की बेस्ट जगहों में गिना जाता है। गुलमर्ग में ही खिलनमर्ग नाम की खूबसूरत घाटी है, जहां फूलों और पहाड़ों के साथ बहुत सुंदरर दृश्य देखने को मिलते हैं।

निंगली नल्लाह
गुलमर्ग से करीब 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है निंगली नल्लाह नाम की एक छोटी नदी या जलधारा। यह जलधारा अफरवात चोटी से पिंघलती हुई बर्फ और अलपाथर झील के पानी से बनती है और सफेद वर्फ की तरह चमकती हुई बहते हुए झेलम नदी में गिरती है। घाटी के साथ मनोरम पर्यटन स्थलों में से एक है यह जगह। एक और बात जो हैरान करती है, वह है कि यह जिला नवपाषाण काल से स्थित हैं। यहां मिले शिलालेखों से यह बात साबित हो चुकी है।

सोनमर्ग
अगर आप सर्दी के मौसम की खूबसूरती वाकई इंजॉय करना चाहते हैं तो आपको कश्मीर के सोनमर्ग में जाना चाहिए। फिर यह समय सोनमर्ग घूमने के लिए बेस्ट है। सर्दियों के मौसम में अक्टूबर से फरवरी तक सोनमर्ग में घूमने से सबसे अच्छा समय माना जाता है। इस दौरान आप हिल क्लाइंबिंग और वॉटर राफ्टिंग का मजा ले सकते हैं। यहां प्रकृति की खूबसूरती देखने के साथ ही आपको हिंदू और बौद्ध कल्चर नजदीक से देखने को मिलेगा। यहां जाने के लिए कई तरह के टूर पैकेज इस समय आपको मिल जाएंगे। जिनकी शुरुआती कीमत 10,500 रुपए है।

पहलगाम
पहलगाम में इस समय करीब 3 सेंटीमीटर ऊंची बर्फ जमी हुई है और मौसम मेहरबान है। पिछले कुछ दिन से बादल छाए रहने के कारण कश्मीर में रात का पारा कुछ बढ़ गया है। इस कारण वहां की रात पहले की तरह बेहद ठंडी नहीं है। ऐसे में आप वहां बिना किसी टेंशन के रुकने का विचार बना सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here