Tourist places in Wayanad
Tourist places in Wayanad

केरल की वादियों में बसे हर एक जगह की खूबसूरती इतनी खास और अलग है कि इसे एक दो दिन में एक्सप्लोर कर पाना मुमकिन नहीं। इन्हीं में से एक है वायनाड। शहर से लगभग 76 किमी का सफर तय करके आप यहां पहुंच सकते हैं। चारों तरफ फैली हरियाली, जंगल में शोर मचाते पशु-पक्षी और यहां का अनोखा कल्चर देश-विदेश के सैलानियों को करता है अपनी ओर अट्रैक्ट। तो और क्या अलग है यहां, जानेंगे इसके बारे में।

वायनाड में घूमने वाली जगहें

चेम्ब्रा पीक
2100 मीटर की ऊंचाई चढ़कर पहुंचते हैं चेम्ब्रा पीक। ऐसा अनोखा एक्सपीरिएंस शायद आपने पहले कभी नहीं लिया होगा। वायनाड की इस खूबसूरत जगह को देखना बिल्कुल भी मिस न करें प्रकृति के करीब जाकर कुछ वक्त सुकून से बिताने के लिए शायद ही इससे बेहतरीन कोई दूसरी जगह होगी।

नीलीमाला
वायनाड के दक्षिण भाग में स्थित नीलीमाला ट्रैकिंग के शौकीनों की पसंदीदा जगह है। जिसकी सबसे ऊपरी सिरे पर पहुंचकर आप मीनमुट्टी वॉटरफॉल के खूबसूरत नज़ारे का आनंद ले सकते हैं।

कुरूवा आईलैंड
अगर आप वायनाड में हैं तो लाइफटाइम एक्सपीरियंस के लिए खूबसूरत कुरूवा आइलैंड जरूर जाएं। जहां जाने के लिए आपको लेनी पड़ेगी बैंबू राइड। कबीनी नदी में डेल्टा द्वारा बना यह छोटे आईलैंड्स का समूह है। जहां पक्षियों से लेकर फूलों और जड़ी-बूटियों की ढेरों वैराइटी देखने को मिलती है। इसके अलावा बांस और कुछ दुर्लभ पेड़ों को भी यहां आकर देखा जा सकता है। खूबसूरती के साथ ही बैंबू राइड की वजह से ये आईलैंड दुनियाभर के सैलानियों के बीच मशहूर है।

रिवर रॉफ्टिंग
चारों ओर हरी-भरी पहाड़ियों से घिरे वायनाड में नदियों, झीलों और झरनों की भी कोई कमी नहीं। जो आपको मिलेगा एडवेंचर का पूरा-पूरा मौका। अनोथ, मननथावड़ी और पाझासी पार्क आकर आप रॉफ्टिंग के मज़े ले सकते हैं। हर एक जगह रॉफ्टिंग के अलग-अलग लेवल हैं जो पूरी तरह आप पर निर्भर करता है कि आप किसका एक्सपीरियंस लेना चाह रहे हैं।

बनसुरा डैम में बोटिंग का मज़ा
वायनाड में टूरिस्टों के आने की खास वजह यहां की नेचुरल ब्यूटी है। जिसे इसकी खूबसूरती को दोगुना करने का काम करता है बनसुरा डैम। जिसे आप बोटिंग द्वारा एक्सप्लोर कर सकते हैं। टूरिस्टों के लिए यहां रोज़ाना सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक पैडल और स्पीड बोट की सुविधा मिलती है। वैसे यह दुनिया के सबसे बड़े डैम में से एक है।

वायनाड वाइल्डलाइफ सेंचुरी
वायनाड में सेंचुरी और हाथी रिज़र्व है। जो यहां आने वाले टूरिस्टों के टॉप लिस्ट में शामिल रहता है। 345 वर्ग किमी में फैला ये अभ्यारण्य जैविक विरासत को सुरक्षित रखने के लिए बनाया गया था। यहां आप जंगली भालू, मोर, हिरण, बिज़न, गौर, चीते, बंदर, मोर, पैंथर्स आदि को देख सकते हैं।

कब जाएं
वायनाड की खूबसूरत जगहों को देखने के लिए अक्टूबर से मई का महीना बेस्ट होता है। जब आप यहां के हर एक खूबसूरत नज़ारे को देख सकते हैं फिर चाहे वो वाइल्डलाइफ हो, ट्रैकिंग या फिर आउटडोर एक्टिविटीज़। वैसे जून से सितंबर का महीना भी वायनाड की खूबसूरती और हरियाली को एक्सप्लोर करने के लिए होता है परफेक्ट।

कैसे पहुंचे

हवाई मार्ग
कालीकट इंटरनेशनल एयरपोर्ट, वायनाड पहुंचने के लिए सबसे नज़दीकी एयरपोर्ट है। जहां मौजूद टैक्सी और बसों द्वारा आप डेस्टिनेशन तक पहुंच सकते हैं।

रेल मार्ग
वायनाड पहुंचने के लिए आपको कोझीकोड तक के लिए ट्रेन लेनी होगी। स्टेशन के बाहर मौजूद बसों और टैक्सी द्वारा आप यहां तक पहुंच सकते हैं।

सड़क मार्ग
केरल और कर्नाटक की अलग-अलग जगहों से आसानी से सड़क मार्ग द्वारा आप वायनाड तक पहुंचा जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here