Amarnath Yatra
Amarnath Yatra

अमरनाथ यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों के पंजीकरण की औपचारिकता 1 अप्रैल, 2019 से शुरू हो चुकी है। दोनों मार्गों यानी बालटाल और चंदनवाड़ी मार्ग से यात्रा करने के इच्छुक तीर्थयात्री इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। इच्छुक तीर्थयात्री जम्मू और कश्मीर बैंक, पंजाब नैशनल बैंक की शाखाओं और पूरे भारत में येस बैंक के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। इस वर्ष यात्रा की शुरुआत 1 जुलाई 2019 से दोनों मार्गों पर एक साथ होगी। यह यात्रा कुल 46 दिनों तक चलेगी और रक्षाबंधन यानी 15 अगस्त 2019 को संपन्न होगी।

जानकारी के अनुसार, श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड के सीईओ उमंग नरुला ने बताया कि पंजीकरण प्रक्रिया को बोर्ड की वेबसाइट पर डाल दिया गया है। इसमें भारत भर में स्थित बैंक शाखाओं के आवेदन फार्म और पते हैं, जहां जाकर तीर्थयात्री अपना आवेदन भर सकते हैं। तीर्थयात्रियों को सफल पंजीकरण के लिए एक अनिवार्य स्वास्थ्य प्रमाण पत्र और प्रमाण पत्र का प्रारूप प्रदान करने की आवश्यकता है। इसके अलावा, प्रमाण पत्र जारी करने के लिए लाइसेंस प्राप्त डॉक्टरों / संस्थानों की एक राज्य-वार सूची वेबसाइट पर प्रदान की गई है।

इस वर्ष की तीर्थयात्रा के लिए केवल 15 फरवरी 2019 के बाद जारी किए गए स्वास्थ्य प्रमाणपत्रों पर विचार किया जाएगा। जानकारी के अनुसार, 13 वर्ष से कम उम्र और 75 वर्ष से अधिक उम्र के यात्री और जो महिलाएं छह सप्ताह से अधिक गर्भवती हैं, उनका आवेदन यात्रा के लिए स्वीकार नहीं किया जाएगा।

इस वर्ष की तीर्थयात्रा के लिए दिए गए परमिट सप्ताह के हर दिन के लिए अलग-अलग होंगे। यात्रा की सुगमता और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कलर कोडिंग का उपयोग बालटाल और चंदनवाड़ी के एक्सेस कंट्रोल गेट्स पर किया जाएगा। ताकि वहां तैनात पुलिस कर्मियों को विभिन्न मार्गों और तिथियों की यात्रा की निगरानी करने में आसानी हो। इसलिए केवल वैध यात्रा परमिट वाले यत्रियों को बेस कैंप से आगे जाने की अनुमति होगी। साथ ही इसी आधार पर डोमेल और चंदनवारी में प्रवेश द्वारों को पार करने दिया जाएगा।

वहीं, अगर आपकी प्लानिंग हेलिकॉप्टर से यात्रा करने की है तो आपको पंजीकरण कराने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि इस दौरान यात्रियों की पूरी जांच हेलिकॉप्टर टिकट प्राप्त करने की प्रक्रिया के दौरान हो जाएगी। हालांकि, उनके लिए अधिकृत चिकित्सक / स्वास्थ्य संस्थान द्वारा जारी अनिवार्य स्वास्थ्य प्रमाणपत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here