Arunachal Pradesh
Arunachal Pradesh

भारत में टूरिज्म का हब और प्राकृतिक नजारों की खूबसूरती से भरा अरुणाचल प्रदेश जल्द ही एक और एयरपोर्ट के साथ अपने सैलानियों का स्वागत करने की तैयारी में है। इस नई शुरुआत से नोर्थ इंडिया में टूरिज्म के बढ़ने की संभावना है। इस एयरपोर्ट का नाम होलोंगी एयरपोर्ट होगा। इसे वाणिज्य विभाग से मंजूरी मिल चुकी है। जानकारी के मुताबिक होलोंगी एयरपोर्ट को Arunachal Pradesh की राजधानी ईटानगर में बनाया जाएगा।

मुख्य शहर Itanagar से इस एयरपोर्ट की दूरी करीब 25 किलोमीटर होगी, जिसका रनवे करीब 2200 मीटर का होने की सूचना है। इस एयरपोर्ट की साज-सज्जा में Arunachal की स्थानीय कला, संस्कृति और आधुनिकता का संगम देखने को मिलेगा। उम्मीद की जा रही है कि इस एयरपोर्ट के शुरू होने के बाद यहां आनेवाले सैलानियों की सख्या में बड़ा इजाफा होगा। देश के अन्य हिस्सों के साथ ही विदेशी पर्यटक भी अरुणाचल आसानी से पहुंच सकेंगे। अरुणाचल प्रदेश की खूबसूरती से ज्यादातर पर्यटक अभी भी अनजान हैं, जबकि पिछले कुछ साल में इसके पड़ोसी राज्यों आसाम और नागालैंड में पर्यटन में खासा इजाफा हुआ है।

Itanagar के टूरिस्ट स्पॉट
अगर आप भी नोर्थ इंडिया के इस खूबसूरत राज्य के बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो आपको Arunachal Pradesh की कुछ जगहों पर जरूर जाना चाहिए। वैसे यहां की राजधानी ईटानगर में ही घूमे के लिए इतना कुछ है कि सैलानियों का मन ही न भरे। आप ईटानगर जाएं तो आपको गोंपा मंदिर, ईटा फोर्ट, गंगा झील, रूपा, ईटानगर वन्यजीव अभयारण्य और नामधापा नैशनल पार्क जरूर जाना चाहिए।

Itanagar फोर्ट
Itanagar फोर्ट ईटानगर के बीचोंबीच स्थित है। दरअसल इस किले के नाम पर ही इस शहर का नाम रखा गया है। इस किले में ही इस शहर का इतिहास भी समाया है। जानकारी के मुताबिक इस किले का निर्माण 14वीं से 15वीं शताब्दी के बीच किया गया है। इस किले के निर्माण में सामान्य से लंबी ईटों का प्रयोग किया गया है, इसीलिए इस किले का नाम ईटा फोर्ट पड़ा और इस फोर्ट के कारण शहर का नाम। कहा जाता है कि इस किले के निर्माण में 80 लाख से अधिक ईंटों का प्रयोग किया गया है।

गंगा झील
Arunachal Pradesh के प्रमुख पर्यटन स्थलों में गंगा झील की गिनती होती है। स्थानीय भाषा में इस झील को गेकर सिन्यी कहा जाता है। यह झील शहर की आबादी से करीब 6 किलोमीटर दूर है। खास बात यह है कि मौसम चाहे जो भी हो,यहां आनेवाले पर्यटकों की संख्या लगातार बनी रहती है। इस झील के चारो तरफ घना जंगल है, जो इसकी सुंदरता को अधिक बढ़ा देता है। इस झील से कई पौराणिक कथाएं भी जुड़ी हुई हैं, जो यहां पहुंचने पर गाइड और स्थानीय लोग आपको बताएंगे।

रूपा
रूपा Arunachal Pradesh का एक छोटा मगर आकर्षक हिल स्टेशन है। यह तेंगा नदी के किनारे आनेवाली हिम श्रृंखला पर स्थित है। अगर आपको रूपा के आस-पास से सुबह सवेरे या शाम के समय गुजरने का मौका मिले तो कहने ही क्या। यहां का मनोरम दृश्य और इस हिल स्टेशन की खूबसूरती सूरज की मद्धम रौशनी में और भी खिल जाती है। यहां की प्राकृतिक सुंदरता आंखों के साथ दिल और दिमाग में उतर जाती है।

SOURCEhttps://navbharattimes.indiatimes.com
Previous articleदेश के प्राचीन धरोहरों में से एक है Konark Sun Temple
Next articleGame of Thrones जैसी लोकेशंस का मजा लें India में, यहां मौजूद हैं ये जगहें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here