उत्तराखंड में स्थित विश्व प्रसिद्ध बद्रीनाथ धाम के कपाट 17 नवंबर से श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए बंद कर दिए जाएंगे। विजयादशमी के अवसर पर बद्रीनाथ धाम में आयोजित विशेष समारोह के दौरान कपाट बंद किए जाने की तिथि घोषित की गई थी। मंदिर के कपाट बंद होने से पहले ही उत्तराखंड में ऊंचाई वाले स्थानों पर बर्फबारी हुई है। वहीं मैदानी इलाकों में बारिश होने से तापमान में भारी गिरावट देखने को मिला है।

बर्फबारी के बाद मंदिर की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं। बर्फ की चादर ओढ़े पहाड़ों और भव्य मंदिर को साथ में देखना काफी अद्भुत है। आप भी देखें कुछ तस्वीरें:

NBT
NBT
NBT
NBT
NBT

बता दें कि मंदिर के कपाट रविवार, 17 नवंबर की शाम पांच बज कर 13 मिनट पर बंद होंगे। इसी तरह केदारनाथ मंदिर के कपाट 29 अक्टूबर को भैया दूज के अवसर पर सुबह श्रद्धालुओं के लिये बंद कर दिए जायेंगे । केदारनाथ के शीतकालीन गद्दी स्थल उखीमठ में इस हेतु आयोजित पूजा एवं समारोह के बाद मुहूर्त निकाला गया।

शीतकाल में बर्फबारी और भीषण ठंड के कारण चारों धामों (बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री) के कपाट शीतकाल के लिए बंद किए जाते हैं जो अगले साल अप्रैल-मई में दोबारा श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिए जाते हैं। इस साल कल सात अक्टूबर तक 10 लाख 81 हजार से अधिक तीर्थयात्रियों ने भगवान बदरी विशाल के दर्शन किए।

SOURCEhttps://navbharattimes.indiatimes.com/
Previous articleAsia largest women market
Next articleVisit The Jaisalmer Longewala War Memorial

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here