Sports Tourism
Sports Tourism

इंग्लैंड और वेल्स में शुरू होने वाले ICC विश्व कप के लिए अब कुछ ही दिन का वक्त बचा है और इधर टूरिज़म कंपनियां खेल और क्रिकेट की दुनिया के इस मेगा इवेंट का गवाह बनने की तैयारियों में पहले ही लग चुकी हैं। क्रिकेट वर्ल्ड कप शुरू होने से काफी पहले से ही ट्रैवल के शौकीन अपनी तैयारी कर चुके हैं ताकि इस बार वह खेल और ट्रैवल दोनों का मजा उठा पाएं। तभी तो ब्रिटेन और यूरोप टूरिस्टों की पहली पसंद बन रहे हैं और यही वजह है कि खेल शुरू होने से पहले ही यात्रा करने वाले भारतीयों की संख्या में बढ़ोतरी शुरू हो चुकी है। क्रिकेट के प्रति भारतीयों के जुनून को देखते हुए इसे भारत में स्पोर्ट्स/क्रिकेट टूरिज़म को बढ़ावा देने वाले मुख्य कारणों में से एक माना जा सकता है।

2015 में ऑस्ट्रेलिया/न्यू ज़ीलैंड में खेले गए पिछले आईसीसी विश्व कप के दौरान दुनिया भर में रहने वाले 25,000 से अधिक भारतीयों ने विश्व कप देखने के लिए महाद्वीप की यात्रा की। मई से जुलाई के बीच होने वाले आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के दौरान यूरोप में टूरिस्ट सीज़न चरम पर होगा। टूरिस्ट कंपनियों के मुताबिक यूरोप की यात्रा करने वालों में कम से कम 30 फीसदी की वृद्धि हुई है।

कॉक्स एंड किंग्स के हेड-रिलेशनशिप्स करण आनंद कहते हैं, पिछले साल के मुकाबले इस साल इंग्लैंड टूर के बारे में जानकारी लेने वालों की संख्या में कम से कम 14 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। मई के अंत में शुरू होने वाले आईसीसी विश्व कप के कारण ऐसा हुआ है। आईसीसी विश्व कप न केवल छोटे परिवारों के लिए बल्कि बड़े कॉर्पोरेट समूहों के लिए भी सैर-सपाटे का एक बहुत अच्छा मौका होता है इसलिए क्रिकेट वर्ल्ड कप के दौरान स्पोर्ट्स टूरिज़म का बढ़ना आम है।

खास बात यह है कि ग्रुप और छोटे और सिंगल परिवार भी विश्व कप 2019 में दिलचस्पी दिखा रहे हैं हालांकि लगभग 65 प्रतिशत यात्री टियर-1 सिटीज़ से आते हैं लेकिन टियर-2 शहरों से आने वाले क्रिकेट प्रेमियों की संख्या में काफी अधिक है।

यात्री अपनी छुट्टियों को विश्व कप मैचों के साथ जोड़कर प्लानिंग कर रहे हैं। ज्यादातर लोग 21 मई से शुरू होने वाले ICC विश्व कप के लिए ब्रिटेन की यात्रा कर रहे हैं जबकि कई लोग जुलाई में होने वाले विश्व कप के आखिरी मैच के 10 दिनों बाद तक की बुकिंग करा रहे हैं। मैच की तारीखों को देखते हुए क्रिकेट प्रेमी पोस्ट और प्री-टूर भी प्लान कर रहे हैं। सबसे ज्यादा मांग भारत बनाम पाकिस्तान (16 जून) और भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (9 जून) मैचों को लेकर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here